How to start a career in film production हाउ टु स्टार्ट ए करीर इन फिल्म प्रॉडक्शन

How to start a career in film production हाउ तो स्टार्ट ए करीर इन फिल्म प्रॉडक्शन


Film Making Introduction 


Film Production Intro | फिल्म मेकिंग परिचय 



दोस्तो 
फिल्म या विडियो हमारे जीवन से इस तरहा क्यू जुड़ गए? कभी आपने सोचा है की क्या हम आज के समय मे फिल्म और विडियो देखने का प्रचालन इतना ज्यादा क्यू बढ़ता जा रहा है? इसके मनोवैज्ञानिक कारण है जिसको हम बाद मे डिस्कस करेंगे आज हम यानहा बात करेंगे की क्या कारण है की लोग इतने पैसे खच करके फिल्म प्रॉडक्शन करते है और ज़्यादातर फिल्मे रिलीस ही नहीं होती या तो शूटिंग पूरी नहीं होती और अगर शूटिंग पूरी हो जाए तो रिलीस नहीं हो पाती। इसको समझने के लिए मे आपसे यानहा एक छोटी सी स्टोरी डिस्कस करना चाहता हु जिसके बाद आपको ये समझना आसान हो जाएगा। 

दुनिया मे बहोत ही कम ऐसे लोग होंगे जिनहोने पाब्लो पिकासो का नाम न सुना हो और उसकी बनाई पाईंटिंग्स के बारे मे न सुना या न देखा हो। मै आपसे उनके जीवन की एक घटना का जिक्र यानहा करता हु तो आपको पता चलेगा सफलता क्यू और कैसे मिलती है। 

एक बार पाब्लो कनही बाज़ार मे पैदल जा रहे थे और उनको सड़क पर जा रही एक महिला ने पहचान लिया की ये तो पाब्लो पिकासो है और वो तुरंत उत्साहित सी पाब्लो के पास जा कर उनको उनके नाम से पुकारती हुई रोकने लगी और पाब्लो ने जब देखा तो वे भी रुक गए और उस महिला को देखने लगे तभी महिला ने कहा की आप पाब्लो पिकासो है न सर, मै आपकी बहोत बड़ी फन हु सर, तो पाब्लो उस महिला को देखते रहे और फिर उस महिला ने कहा सर आप मेरी एक पेंटिंग बनाइये प्लीज सर, इसपर पाब्लो ने उस महिला को ध्यान से देखा और मुसकुराते हुए कहा ठीक है बनाऊँगा कभी। अब महिला प्रार्थना करने लगी की नहीं आप अभी मेरी एक पेंटिंग बनाइये पता नहीं आप कब दुबारा मिले या न मिले प्लीज सर आप मेरी एक चोटी सी पेंटिंग अभी बनाइये। इसपर पाब्लो ने कहा ठीक है मै आपको एक पेंटिंग अभी बना देता हूँ और पाब्लो ने अपनी जेब से एक कागज और पेन निकाला और वनही पास मे एक जगह खड़े कहड़े उस महिला की एक चोटी सी पेंटिंग बनकर उस महिला को देते हुए कहा की ये लाखो डोललोर की पेंटिंग है और मेरी तरफ से ये आपको गिफ्ट है। इसपर उस महिला ने उत्सुकता से पेंटिंग लेते हुए शुक्रिया किया पर उस पेंटिंग को देखने के बाद उस महिला को यकीन नहीं आ रहा था की ये पेंटिंग लाखो डोललोर की कैसे हो सकती है पर फिर भी वो महिला पाब्लो का शुक्रिया करते हुए वनहा से चली गई पर घर जाकर उस महिला ने सोचा की क्या ये पेंटिंग वाकई लाखो डोललोर की हो सकती है क्या? इस विचार की पुष्टि के लिए वो महिला अगले दिन बाज़ार मे पेंटिंग विक्रेताओ से मिली और उस पेंटिंग को दिखते हुए कहा की ये पेंटिंग कितने कीमत की हो सकती है। पेंटिंग विक्रेता पाब्लो की पेंटिंग को देखकर एक लाख डोललोर देने को तयार थे और ये सुनकर उस महिला को यकीन आ गया की वाकई ये बात सच है की इस पेंटिंग की कीमत बाज़ार मे एक लाख डोललोर मे तो बिक सकती है। फिर वो महिला पाब्लो को मिली और उसको कहा की आपने 10 मींटेस मे ये पेंटिंग बाज़ार मे खड़े खड़े मेरे सामने बनाई थी जिसकी कीमत एक लाख डॉलर है जिसकी पुष्टि मैंने खुद की है। पाब्लो मुस्कुराने लगे फिर सु महिला ने कहा की सर आप कृपया मुझे अपनी शिष्या बना ले और मुझे भी सिखाये की 10 मिनट्स मे ऐसी पेंटिंग कैसे बनती है। इसपर पाब्लो ने उस महिला को काफी देर तक देखा फिर बोले, ये पेंटिंग 10 मिनट्स मे मैनी बनाई है मगर इसको 10 मिनट्स मै बनाने के लिए मैंने 30 साल मेहनत की है और अगर तुम भी अपने जीवन के 30 साल पेंटिंग सीखने को दे सकती हो तो मै जरूर सिखाऊँगा आपको। 

पाब्लो का जवाब सुनकर महिला विचारो मे गुमसुम काफी देर तक पाबलों को देखती रही। 

तो दोस्तो इस कहानी को आपसे डिस्कस करने का मतलब आपको समझ आया होगा और मै आपसे येही कहना चाहता हु की फिल्म मेकिंग एक लंबी प्रक्रिया है जिसको समझने में और कामयाबी के शिखर तक पोहचने में समय देना पड़ेगा अगर आप थोड़ी बहोत जांकारिया लेकर सोचते है की फिल्म प्रोड्यूसर बन सकते है तो आपको मेरी तरफ से सिर्फ शुभकामनाए ही मिल सकती है। अगर आप फिल्म मेकिंग सीखने मे ईमानदारी से जुड़ना च्चाहते हो तो पक्के इरादे के साथ मुझसे संपर्क कर सकते हो।