How to start a career in film making फिल्म बनाने की पूरी जानकारी

How to start a career in film making फिल्म बनाने की पूरी जानकारी

फिल्म प्रोडक्शन की शुरुआत कैसे करे?  

 
जब कभी कोई ऐसा इंसान जिसका कोई भी फ़िल्मी बैकग्राउंड नहीं है वो अपने मन में ऐसा ख्याल  वो भी एक फिल्म मेकर या फिल्म प्रोडक्शन कर सकता है तो सबसे पहले उसके मान में एहि ख्याल आता है की कैसे? शुरुआत कैसे की जाए?   

फिल्म प्रोडक्शन शुरू करने के लिए कोई कोर्स किया जा सकता है ?  
शुरुआत में फिल्म निर्माण की बेसिक प्रक्रिया को समझना बेहद जरुरी है और  के  रहना उस सी भी ज्यादा जरुरी होता है वर्ण ज्यादातर स्टूडेंट्स सिर्फ नक़ल करते ही पाए जाते है वो देख  क्या क्या प्रक्रिया इस्तेमाल होती है फिल्म निर्माण में और वो उसकी ही नक़ल करने की कोशिश में लग जाते है जबकि उस प्रक्रिया को सही से समझने की उत्सुकता होना ही एक सफल फिल्म मेकर बनने की सही शुरुआत है    

क्या फिल्म मेकिंग बहोत सारे पैसो से संभव है ?
हिंदी फिल्मो की बात करे तो साल भर में सैंकड़ो फिल्मे बनती है और यादगार रह जाती है गिनी चुनी  10 से 15 फिल्मे बाकी आती है और गम होकर चली जाती है इसके पीछे सबसे बड़ा कारन है की वो बनाई ही सिर्फ बिज़नेस के िये जाती है और उसको मई फिल्म प्रोडक्शन या फिल्म   मात्ना हूँ. ऐसा मेरा सोचना है आप कुछ भी सोचे , पर फिल्म मेकिंग मनो मेरे लिए लव मेकिंग जैसा ही है फिल्म बनाने वाले ऐसे ऐसे जुनूनी मैंने देखे है जिनके जूनून की व्याख्या करना शब्दों में संभव ही नहीं है कम से कम मेरे लिए तो संभव नहीं है. और एक उदहारण मुझे हमेशा प्रेरणा देता है वो है फिल्म मुगले आज़म का जिसको बनाने वाले डायरेक्टर क आसिफ न तो ज्यादा पढ़े लिखे थे और न ही उनके पास कोई पैसा था पर उनके पास जूनून था और उन्होंने एक ऐतिहासिक फिल्म बना डाली  पास कोई फिल्म मेकिंग की डिग्री भी नहीं थी ये बात सब जानते है पर उन्होंने इतिहास रच दिया जिसे आज भी लोग चाव से देखते है. आप भी ऐसा जूनून रखते है तो ाको भी रास्ता मिलेगा और आपका ये जूनून ही आपके लिए रास्ता बनाएगा वर्ण पैसा तो सभी   बनाने के लिए पर जूनून बाजार में नहीं मिलता जिसे कोई ख़रीदे और फिल्म निर्माता बन जाए और अगर ऐसा होता तो सभी बड़े बड़े पैसे वालो के बच्चे सफल फिल्म निर्माता बन जाते।    


फिल्म मेकिंग नॉलिज की बात है 
फिल्म का निर्माण करने के लिए सबसे ज्यादा जरुरी है नॉलिज ऑफ़ सिनेमा उसके बाद जरुरी है आपका व्यव्हार जो लोगो को आपके साथ जुड़ने के लिए प्रेरित करता है और आपके साथ काम करने के लिए उत्सुक होते है उसके पीछे आपका व्यव्हार और आपका सिनेमा के प्रति प्रेम जिसकी वजह से आप ईमानदारी से अपने काम को करने  बाध्य होते है और शार्ट कट का नहीं बल्कि रिजल्ट के बारे में सोचते है।  


फिल्म मेकिंग और फिल्म बिज़नेस दोनों को समझना जरुरी  है 
फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े जानकार कहते है की यंहा अकल्मन्द लोग न सिर्फ अपनी फिल्मे से बल्कि दुसरो की फिल्मो से भी पैसे कमाते है और ऐसा इसी लिए संभव होता है क्योकि उनको  की नॉलेज हो गई है और वो कभी नुक्सान नहीं खाते। आपको भी फिल्म निर्माण के साथ साथ फिल्म बिज़नेस को समझना उतना ही जरुरी है जितना फिल्म मेकिंग को समझना वर्ण आपके लिए इस बिज़नेस में टिकना भी मुश्किल होगा सफल होना तो बहोत दूर की बात रहेगी।    



आप अपने रास्ते खुद बनाओ दूसरे आपको कभी रास्ता नहीं देंगे ? 
अगर  एक चांस दे दे तो मैं  प्रूव कर सकता हूँ की मई एक बेहतरीन फिल्म निर्माता हूँ। ... ऐसा बहोत लोग कहते है पर जब आप खुद को प्रूव कर दोगे तभी आपको कोई मौका देगा ये   जितना जल्दी समझ लोगे उतना आपके लिए बेहतर सिद्ध होगा। आप छोटे छोटे प्रोजेक्ट बनाइये और लोग आपको आपके काम से जान लेंगे। सही शुरुआत जरुरी है और  महत्वपूर्ण भी है।  आप शुरुआत करना चाहते है पक्के इरादे के साथ हमसे संपर्क कर सकते है।   

फिल्म मेकिंग के लिए बेहतरीन वीडियो आपको समर्पित है   
  फिल्म बनाने से पहले क्या ध्यान देना है 
निर्माण और मुनाफा पहले तय करे  
शूटिंग से पहले क्या जानना जरुरी है 
विषय से लेकर रिलीज़ तक की पूरी जानकारी ले 

फिल्म शुरुआत से रिलीज़ तक की पूरी जानकारी वीडियो से ले 

How to start a career in film making फिल्म बनाने की पूरी जानकारी
 


अनुभव ही कीमती है 
आप कहते है की आप ये करना चाहते है वो पाना चाहते है ऐसा बनना चाहते है तो आप का अभिप्राय सिर्फ ऐसा अनुभव लेने ही होता है और जब वैसा हो जाता है तब भी आप को आपका ही दिमाग कुछ और पाने को कहता है। कुछ और अनुभव करने की सलाह या ख्वाइश कर देता है। 


कॉन्सल्टेशन एक अनुभव ही है   
आप अपने अनुभव से सीखते है और उसको दूसरों के साथ शेयर करते है जो उनको मदद करता है सही निर्णय  लेने में और गलती न करने या गलती से बच जाने मे। सफलता पाने के लिए अपनी सारी ज़िंदगी का समय लगाने से पहले एक बार इस बात को सीखने के लिए समय लगाए की सफलता आती कैसे है। 

सफलता बाहर नहीं आपके भीतर है