Bollywood script writing # 5 स्टोरी प्लाट क्या होता है

How to writer story plot स्टोरी प्लाट क्या होता है

स्टोरी प्लाट परिचय  


स्टोरी प्लाट क्या होता है
स्टोरी प्लाट कैसे लिखते है 
स्टोरी एलिमेंट्स कौनसे होते है  

स्टोरी प्लाट परिचय 
नए राइटर शुरुआत के बाद अक्सर ये पाते है, की वो उन् प्रचलित शब्दों और तरीको को नहीं समझ पा रहे है जिनसे अक्सर प्रोडूसर, डायरेक्टर या प्रोफेशनल राइटर किसी स्क्रिप्ट या कहानी को डिसकस करते समय इस्तेमाल करते है और इस छोटी सी बात से नए राइटर खुदको असमंजस में या असहज महसूस करते है। आज यंहा हम स्टोरी प्लाट के मतलब को जान लेते है की स्टोरी प्लाट का जब जिक्र हो तो उसका अभिप्राय होता है स्टोरी की घटनाएंइसको और बेहतर समझने के लिए हमको कुछ और चीजों  समझ लेना चाहिए।   


स्टोरी प्लाट क्या होता है ? 
बहोत सारी या किसी एक घटना को क्रमवार लिखना प्लॉटिंग कहा जाता है , जब आप किसी भी कहानी को लिखे या पढ़ते है तो उसमे कुछ अलग अलग घटनाओ को क्रमवार यानी एक के बाद दूसरी फिर अगली फिर उसके आगे की घटना को बताया जाता है मतलब अगर हम एक स्टोरी लिखना चाहे तो उसके लिए घटनाओ का होना जरुरी है अगर कहानी में घटना नहीं है तो स्टोरी नहीं बन सकेगी और इस घटना को प्लाट कहा जाता है। अगर आपने अपनी कहानी में एक के बाद एक घटना को पाठक या दर्शक की उत्सुकता को बढ़ाने के क्रम से लिखा हो तो उसको अच्छे से प्लॉटिंग कहा माना जायेगा और अगर कहानी में घटनाओ का क्रम या जोड़ ऐसा नहीं की पाठक या दर्शक की उत्सुकता बनी रहे तो उसको कमजोर प्लॉटिंग माना जायेगा। प्लॉटिंग करने की चतुराई अगर आपको हो तो आप किसी साधारण से प्लाट यानि घटना को भी सुदृढ़ और बेहतर बना सकते है ताकि पाठक का इंटरेस्ट बना रहे। तो अब जब बात हो स्टोरी प्लाट की तो समझ लेना स्टोरी = कहानी और प्लाट = उसमे हुई घटना।और प्लॉटिंग से मतलब है की कहानी की प्रमुख घटना या छोटी छोटी कई घटनाये, जिसके ऊपर पूरी कहानी लिखी गई है और इसके यानि मेन प्लाट के अलावा और छोटे छोटे प्लॉट्स भी उसमे हो सकते है जिनको जोड़कर कहानी पूरी बनाई गई है।
    


स्टोरी प्लाट कैसे लिखते है ? 
हो सकता है की आपकी कहानी में कोई एक मेन घटना हो मगर उसको लिखने के लिए आपको उसको कुछ घटना क्रम बनाकर लिखना होगा तभी उसको स्टोरी का रूप मिलेगा और अक्सर नए राइटर कहते है की उनके पास आईडिया है पर इसको कैसे लिखे ये समझ नहीं आ रहा है। ये वो परेशानी है जो आपको घटनाओ का क्रम और उनकी भूमिका को लिखने में परेशानी बनती है। क्योकि आपको आईडिया तो है की आप क्या दिखाना या बताना है पर आप उसको घटना क्रमवार नहीं लिखना आता या नहीं लिख पाते। इसके लिए आप शुरुआत में  घटनाओ को सिर्फ छोटी छोटी लइने लिखकर जोड़े उनको पूरा लिखने की कोशिश न करे पहले हर  घटना को एक लाइन से ही लिखे की क्या हुआ, फिर लिखे उसके बाद क्या हुआ इसी तरह अपनी पूरी स्टोरी की सारी घटनाओ को अलग अलग लाइन से क्रमवार लिखे। फिर पढ़े की उनका क्रम सही है या नहीं अगर आपको लगे की यही वे क्रम है जिसमे आप लिखना चाहते है तो उन लाइन को डिटेल में लिखने की कोशिश शुरू करे। आप धीरे धीरे सीखने लगेंगे।    


स्टोरी एलिमेंट्स क्या है ? 
स्टोरी या कहानी को लिखने के लिए 2 एलिमेंट्स की जरुरत है यानी कहानी लिखने के लिए आपको 2 चीज चाहिए एक है चरित्र यानि के पात्र और दूसरी है घटना यानि प्लाट बस इन दो एलिमेंट्स से ही स्टोरी बनाई जाती है। आप चाहे कितने भी पात्र ले या कितनी भी घटनाये डाले उनके क्रमवार जोड़कर लिखने को कहानी कहते है। 

यह वीडियो देखे 
How to writer story plot स्टोरी प्लाट क्या होता है


आपको राइटिंग अभ्यास से शुरू करनी चाहिए  
नए राइटर अक्सर ये गलती करते है की वो अपनी लिखी कहानी को ही सबसे अच्छी और मूलयवान समझने लगते है जबकि उनको पाठक की उत्सुकता और अपने सोचने और सोचे हुए को लिखने के सही तरीके को समझने पे ध्यान देना चाहिए। और इसके लिए लम्बे अभ्यास की जरुरत होती है। नए राइटर को पहले ज्यादा से ज्यादा अपने लेखन के अभ्यास या समय अवधि को बढ़ने पे ध्यान देना चाहिए। पहले अपनी लिखने की क्षमता को बढ़ाये तभी आपको  एहसास होगा की आप लिख सकते है बस थोड़ा सा धैर्य से काम लेना होगा।   


कम पात्र और कम लोकेशन  
नए राइटर को अपनी राइटिंग की शुरुआत हमेशा ऐसी स्टोरी लिखने से करनी चाहिए जिसमे कम से कम पात्र और कम से कम लोकेशन हो ऐसा करने से उनको कहानी लिखने के वो अनुभव होंगे जो उनके बिज़नेस को बेहतर बनाएंगे। और अगर आपको बहोत अच्छे से राइटिंग को समझना हो तो आप एक ही लोकेशन को लेकर एक ही पात्र को ले कर कहानी लिखने का अभ्यास करे शुरआत में कुछ मुश्किल लगेगा पर आप अपने अंदर के राइटर तक पोहंच जायेंगे। 

राइटर के लिए जरुरी है  
प्रोडूसर के बजट को ध्यान में रखकर लिख सके।  
निर्धारित समय की अर्थपूर्ण स्टोरी लिख सके।  
घटनाओ के क्रम से उत्सुकता बढ़ा सके। सही और जरुरी शब्द को इस्तेमाल करना जाने।

   

अच्छा राइटर राइटिंग बिज़नेस को समझता है   
जैसा मैने पहले कहा की सफल राइटर राइटिंग बिज़नेस को भी समझते है वो सिर्फ अपने लिखे को ही पसंद नहीं करते बल्कि राइटिंग बिज़नेस के लिए जैसा लिखना जरुरी है उसको भी पसंद करते है।  


 अनुभव   
आपको राइटिंग करने को राइटिंग बिज़नेस का अनुभव लेना ही मानकर ही लिखते रहना चाहिए।