How to start a career in cinematography in Bollywood- filmo me cameraman kaise bane

सिनेमेटोग्राफी में करियर कैसे शुरू करे ? कैमरामैन बनने के लिए कैसे शुरुआत करे ?

 

How to start a career in cinematography in Bollywood- filmo me cameraman kaise bane

फिल्म और वीडियो को दिखने के लिए सबसे पहले जरुरत है एक प्रोफेशनल स्क्रिप्ट की उसके बाद जरुरत है उसको शूट करने के लिए एक प्रोफेशनल कैमरामैन की। कैमरामैन को डायरेक्टर  आँखे भी कहा जाता है क्योकि राइटर लिखता है की क्या दिखाना है और डायरेक्टर डिसाइड करता है की राइटर के लिखे हुए को कैसे दिखाना है जिसके लिए उसको एक प्रोफेशनल कैमरामैन की जरुरत होती है। आज यंहा हम जानेंगे की कैमरामैन बनने के लिए सही शुरुआत कैसे करनी जरुरी है। और क्या नहीं करना चाहिए की   

सीन को दिखना कैसे समझे ? सीन में कितने शॉट है ये कैसे समझे ?  

कैमरामैन के लिए सबसे पहले क्या समझने की जरूरत है ?

फिल्म या वीडियो का जिक्र जब भी मै यंहा करूँगा तो उसका मतलब एक ही होगा ऐसा मानकर आगे चलते है तो जब हम किसी भी फिल्म को देखते है तो उसमे बहोत सारे सीन को जोड़कर दिखाया जाता है और इन सब सीन को क्रमवार जोड़न को एडिटिंग में किया जाता है।  

कैमरामैन बनने के लिए सबसे पहले आप किसी भी और बात को ध्यान न दे सबसे पहले सीन की पहचान को समझे इससे ज्यादा जल्दी आपको कोई दूसरा तरीका कंही नहीं मिलेगा जो मै आपको यंहा बता रहा हु इसपर ध्यान दे और आप कम समय में बेहतर कैमरामैन बनेंगे। 

आपको तीन बातो का ध्यान रखना जरुरी है। 

  • आप सीन को अलग अलग करना समझे और उसमे कितने शॉट डाले गए है ये समझे। 
  • सिनेमेटोग्राफी के पांच सी समझे इन्ही पे पूरी सिनेमेटोग्राफी काम करती है। 
  • आपको रेगुलर प्रैक्टिस करनी जरुरी है। 

जब भी कोई फिल्म स्क्रिप्ट लिखी जाती है तो उसमे हर सीन का नंबर लिखा रहता है इस बात को आपको पता होना चाहिए। दूसरी बात हर सीन की अपनी लोकेशन और सेटिंग होती है जिससे आप आसानी से सीन चेंज होने को समझ सकते है यानी ये मानकर चले की लोकेशन चेंज तो सीन चेंज इसी को मानकर चले बाकी एक ही लोकेशन में कई सीन हो उसको सिकुवल कहते है जिसपर अभी आप ध्यान न दे। 

आप अगर लोकेशन चेंज सीन चेंज को दिमाग में सेट कर ले तो आसान हो जायेगा आपके लिए फिल्म के टोटल नंबर ऑफ़ सीन को गिनना पहले आप इस बात पर ध्या दे और किसी भी एक फिल्म को या उसके कुछ सीन को अलग अलग नंबर से समझने की कोशिश प्रैक्टिस करे।  

जब आप सीन को पहचानने लगेंगे तो आप उसकी लम्बाई को नोट करे यानी वो सीन कितने मिनट या कितने सेकंड में दिखाया गया है। उसके बाद आपको समझना है की पुरे सीन को कितने शॉट में दिखाया गया है। शॉट को आप कम्पोजीशन से पहचान सकते है इसकी बात विस्तार से आगे करेंगे यंहा इतना समझे की एक फ्रेम को कितनी देर तक दिखाया गया है उसको एक शॉट समझे इसी तरह आपको ये जान लेना है की कितने शॉट डालकर एक सीन को तैयार किया गौए है।  

आप शुरू में एक सीन में कितने शॉट डाले गए है इसको समझने की प्रैक्टिस करे इससे आपकी नज़र कैमरामैन की तरह काम करने लगेगी और आपके लिए फिल्म को देखने का अंदाज़ एक कैमरामैन का होते हुए डी ओ पी से सफर को शुरू होने लगेगा। 

शुरू शुर में आपको थोड़ा बोरिंग लग सकता है हो सकता है कुछ समझ ही ना आये मांगा थोड़ी सी प्रैक्टिस और धैर्य जारी रखेंगे तो आप एन्जॉय भी करेंगे और शूटिंग के सीक्रेट भी जान लेंगे। आपको मालूम हो जायेगा की पूरी की पूरी सिनेमेटोग्राफी पांच सी पर काम करती है और ये पांच सी है 
  • कैमरा एंगल 
  • कम्पोजीशन 
  • क्लोज़अप 
  • कट 
  • कॉन्टिनुइटी 

दुनिया की सबसे प्रचलित किताब 5 C's of Cinematography आपको पढ़नी चाहिए। इसमें आपको सिनेमेटोग्राफी के सबसे बेहतर प्रोफेशनल तरीके मिलेंगे जिनसे आप आसानी से अपनी प्रोफेशनल स्किल्स को निखार सकेंगे। 

कैमरा मूवमेंट के बारे में ये वीडियो आपकी मदद करेगा इसे देखे 



  • I am a student and want to make my career on YouTube so can you suggest to be the best topic to start? 
  • How to start a career in film, Video, and on Youtube productions
  • How to start writing a script for a film as a professional writer in the Bollywood film industry
  • How to start a career in film direction in Bollywood 
  • How to start a career in acting in Bollywood 
  • How to start a career in cinematography

 Career | Next query